स्वरूप चंद गोयल का निधन

 23 Jul 2019  1107

मुंबई,  प्रतिष्ठित समाजसेवी व श्री हरि सत्संग समिति के संस्थापक अध्यक्ष स्वरूपचंद गोयल का सोमवार को निधन हो गया। वे 89 वर्ष के थे। वे अपने पीछे दो बेटे, एक बेटी, पौत्र-पौत्रियों सहित भरा-पूरा परिवार छोड़ गये हैं। 18 अगस्त 1930 को जन्मे स्वरुपचंद गोयल  पूरे मुंबई में बाबूजी के नाम से पहचाने जाने थे। वे आजीवन साल भर विभिन्न धार्मिक उपक्रमों के माध्यम से धन संग्रह कर वनवासी क्षेत्रों में संस्कार केंद्र, एकल विद्यालय से लेकर स्वास्थ्य केंद्र, सामाजिक केंद्र की स्थापना में सहयोग करते रहे। मुंबई में आदर्श रामलीला समिति के माध्यम से चौपाटी सहित कई स्थानों पर रामलीला के आयोजन से लेकर कवि सम्मेलन के आयोजन में स्वरुपजी की प्रमुख भूमिका है। स्व. अटल बिहारी वाजपेयी से लेकर स्वर्गीय नीरज भी मुंबई में स्वरुपजी द्वारा आयोजित कवि सम्मेलन में कविता पाठ कर चुके हैं। मुंबई में अग्रोहा विकास ट्रस्ट से लेकर एकल विद्यालय अभियान और श्री हरि सत्संग समिति के विस्तार में स्वरुपजी की अहम भूमिका रही है।