कांग्रेस ने अपने नेताओं को दी सलाह- अलग से टिप्पणी करने से बचें

 10 Oct 2019  601

नई दिल्ली,(10 अक्टूबर 2019)- कांग्रेस बुधवार को अपने नेता सलमान खुर्शीद के खबरों में आये इस बयान से कन्नी काटते हुए दिखी कि नेता के पद छोड़ जाने के बाद पार्टी ने लोकसभा चुनाव में हार के बाद अभी तक आत्मनिरीक्षण नहीं किया है। कांग्रेस ने कहा कि लोगों को इस तरह के बयान देने से बचना चाहिए और भाजपा सरकार की विफलताओं को सामने लाने की दिशा में काम करना चाहिए। कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि पार्टी हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में जीत सुनिश्चित करने के लिए मिलकर काम कर रही है और सभी नेताओं को इस दिशा में अपनी ऊर्जा लगा देनी चाहिए।उन्होंने मीडिया से कहा, 'सलमान खुर्शीद ने आपको उत्तर दे दिया है, आपको उत्तर उनसे ही मांगना चाहिए, जहां तक मेरा सवाल है, जहां तक कांग्रेस पार्टी का सवाल है, हम हरियाणा और महाराष्ट्र चुनावों के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। हमें जहां से जो शक्ति मिल सकती है, उसके साथ काम कर रहे हैं, लोगों को अलग से टिप्पणियां करने से बचना चाहिए और वास्तव में सरकार की नाकामियों को सामने लाना चाहिए। पूर्व केंद्रीय मंत्री खुर्शीद ने कथित रूप से कहा था कि अप्रैल-मई में हुए लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद पार्टी के नेता उसका साथ छोड़ गये' जिसके बाद अभी तक हार के कारणों का आकलन नहीं किया गया है। खुर्शीद के अलावा, कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी की वर्तमान स्थिति को लेकर एक बड़ा दिया। ज्योतिरादित्य ने कहा कि कांग्रेस को आत्म अवलोकन की जरूरत है और पार्टी की आज जो स्थिति है, उसका जायजा लेकर सुधार करना समय की मांग है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को सफलता मिलेगी और हमारी पार्टी वहां पर सत्ता में आएगी। खुर्शीद के बयान पर पूछे गए सवाल के जवाब में सिंधिया ने पहले तो कहा कि वह किसी के बयान पर प्रतिक्रिया नहीं देते हैं, हालांकि इसके तुरंत बाद उन्होंने कहा लेकिन यह सही बात है कि कांग्रेस को आत्म अवलोकन की जरूरत है, पार्टी की जो स्थिति है, उसमें जायजा लेकर सुधार करना चाहिए और यह समय की मांग है।